नरेंद्र बरागटा पर बागवान विरोधी निर्णय लेने के आरोप हास्यास्पद : अजय श्याम

महासूजिला भाजपा अध्यक्ष अजय श्याम ने सीपीएस रोहित ठाकुर की ओर से पूर्व बागवानी मंत्री नरेंद्र बरागटा पर अपने कार्यकाल में बागवान विरोधी निर्णय लेने के आरोप को हास्यास्पद बताते हुए कहा है कि यह बिल्कुल वैसा है, जैसे सूरज पर कोई अंधेरा फैलाने का आरोप लगाए। वीरवार को जारी बयान में जिला भाजपा अध्यक्ष ने रोहित ठाकुर के आरोपों का जवाब देते हुए कहा कि ठाकुर भूल गए हैं कि 2012 में केंद्र की कांग्रेस नेतृत्व वाली यूपीए सरकार ने प्रदेश को बागवानी के क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ प्रदेश घोषित किया था और उस समय नरेंद्र बरागटा प्रदेश के बागवानी मंत्री थे। मंडियोंका विस्तार किया :अजय श्याम ने कहा कि नरेंद्र बरागटा ने अपने कार्यकाल में मंडियों का विस्तार किया और उन्होंने दिल्ली में सेब कमीशन बंद करवाने के लिए निर्णायक लड़ाई लड़ी। बागबानी उपकरणों पर अनुदान मंडी मध्यस्थता योजना की राशि समय पर बागवानों को दी। सेब को फसल बीमा में लाने के लिए भी बरागटा के प्रयास सफल रहे। बरागटा ने की विदेशों से रूट स्टॉक आयात कर सेब उत्पादन में आधुनिकता लाने के प्रयास शुरू किए। ...

पूरी खबर पढ़े >>
source: Dainik Bhaskar
Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment