स्टूडेंट्स बोले, हमें बताया क्यों नहीं - Shimla Times

Friday, April 19, 2019

स्टूडेंट्स बोले, हमें बताया क्यों नहीं

शिमला—हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय में बैज लगाने पर सस्पेंड किए गए 29 छात्र नेताओं ने अपने जवाब लिखित में प्रशासन को दे दिए हैं। अहम यह है कि शुक्रवार को सस्पेंड किए गए छात्रों के दस दिन भी खत्म हो रहे हैं। ऐसे में एचपीयू में रहने और परीक्षाएं देने के लिए छात्रों को जवाब देना भी जरूरी था। एचपीयू के जिस संगठन के छात्र नेताओं को निष्कासित किया गया था, उन्होंने एचपीयू को दिए गए जवाब में कहा है कि कैंपस में बैज़ पहनकर नहीं आ सकते हैं, इस बारे में प्रशासन ने लिखित में कोई भी जानकारी नहीं दी थी। जानकारी के अनुसार छात्र नेताओं ने यह भी कहा है कि कैंपस में बैज़ पहनना कोई गलत नहीं है, पर फिर भी प्रशासन को नोटिस बोर्ड पर अपने इन आदेशों को डालना चाहिए था। एचपीयू को छात्रों से आए जवाब में कई छात्रों ने यह भी लिखा है कि उन्हें बैज़ पहनकर आना है या नहीं इस बारे में कोई जानकारी ही नहीं थी। हैरत इस बात कि है कि एचपीयू को भेजे गए जवाब में कई छात्रों के जवाब से प्रशासन भी संतुष्ट नहीं है। कैंपस में बैज़ पहनने पर रोक है, इस बारे में कई बार प्रशासन ने घोषणाएं की थीं, बावजूद इसके अब छात्रों द्वारा यह कहना कि उन्हें जानकारी नहीं थी, इससे कई सवाल छात्र नेताओं पर एचपीयू खड़ा कर रहा है। हालांकि जानकारी के अनुसार कई छात्रों ने अपने जवाब में प्रशासन से माफी भी मांगी है। वहीं यह भी कहा है कि आगे एचपीयू के सभी नियमों का पालन किया जाएगा। बता दें कि एचपीयू में 24 मार्च को छात्र संगठनों में हुए खूनी हमले के बाद माहौल को शांत करने के लिए एचपीयू ने बैज़ लगाने पर रोक लगा दी थी। उस दौरान प्रशासन के आदेशों को न मानने वाले लगभग 35 छात्र नेताओं को एचपीयू ने निष्कासित किया था। हालांकि कुछ एक छात्रों का निष्कासन उस दौरान कैंसिल भी कर दिया था। वर्तमान में 29 छात्र नेता ऐसे बचे हैं, जिन्हें एचपीयू ने सस्पेंड कर दिया है। एचपीयू ने साफ किया है कि अगर छात्रों ने आज अपना माफीनामा नहीं दिया तो ऐसे में छात्रों का निष्कासन हमेशा के लिए कर दिया जाएगा। बताया जा रहा है कि अगर कमेटी छात्र नेताओं के जवाब से संतुष्ट हो जाती है, तो ऐसे में छात्रों के निष्कासन को वापस भी लिया जा सकता है।

The post स्टूडेंट्स बोले, हमें बताया क्यों नहीं appeared first on Divya Himachal: No. 1 in Himachal news - News - Hindi news - Himachal news - latest Himachal news.



Courtsey: Divya Himachal
Read full story> http://www.divyahimachal.com

No comments:

Post a Comment