आज से फिर तेवर दिखाएगा मौसम - Shimla Times

Thursday, May 16, 2019

आज से फिर तेवर दिखाएगा मौसम

जिला शिमला में दो दिन तक बारिश-तूफान के साथ ओलावृष्टि ; मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी, जिला शिमला में 21 मई तक मौसम खराब

शिमला -ेजिला शिमला मंे मौसम गुरुवार से फिर तेवर दिखाएगा। मौसम विभाग द्वारा जिला शिमला में आगामी दो दिनों के दौरान मौसम रौद्र रूप दिखाएगा। इस दौरान कुछ स्थानों पर फिर से भारी बारिश, तूफान व ओलावृष्टि होने की चेतावनी जारी की है। विभाग की मानें तो जिला शिमला में 21 मई तक मौसम खराब रहेगा। जिला शिमला में बुधवार दोपहर तक मौसम साफ रहा और जिला के अधिकतर क्षेत्रों में धूप खिली रही, मगर दोपहर बाद आसमान में काले बादल घिरने शुरू हो गए थे। इस दौरान कुछ स्थानों पर ठंडी हवाएं भी चलीं। हालांकि दिन के समय मौसम साफ रहने से तापमान सामान्य रहा, मगर शाम के समय ठंडी हवाओं के चलने से हल्की ठंड का एहसास हुआ। जिला शिमला में तूफान व ओलावृष्टि पहलेे से ही काफी कहर बरपा चुकी हैै। ऐसे में यदि आगामी दिनों के दौरान फिर से ओलावृष्टि होती है, तो किसानों-बागबानों को भारी नुकसान का सामना करना पड़ सकता है। जिला शिमला में ओलावृष्टि से सेब सहित व सब्जियों को भारी नुकसान पहंुचा था। मौजूदा समय जिला शिमला मंे स्टोन फ्रूट, सेब सहित सब्जियों की फसल लगी हुई है। ऐसे में ओलावृष्टि फसलों के लिए घातक साबित हो सकती है। मौसम के बदले हुए मिजाज को देखकर किसान-बागबान खासे चिंतित दिख रहे हैं।

करोड़ोंं की फसल पहले ही हो चुकी है तबाह

जिला शिमला में ओलावृष्टि पहले ही करोड़ों की फसल को तबाह कर चुकी है। सेब सहित सब्जियों को भारी नुकसान पहंुचा था। हालांकि बारिश को फसलों के लिए लाभदायक माना जा रहा है, लेकिन यदि तूफान व ओलावृष्टि होती है, तो यह फसलों को फिर से नुकसानदायक साबित हो सकती है।

शिमला, कुफरी में बारिश

जिला शिमला में बीते 24 घंटों के दौरान भी बारिश रिकार्ड की गई है। शिमला व कुफरी में सात मिलीमीटर बारिश आंकी गई थी। इसके अलावा मशोबरा में छह, कुमारसैन में पांच, जुब्बल में चार और कोटखाई में तीन मिलीमीटर बारिश हुई है।

The post आज से फिर तेवर दिखाएगा मौसम appeared first on Divya Himachal: No. 1 in Himachal news - News - Hindi news - Himachal news - latest Himachal news.



Courtsey: Divya Himachal
Read full story> http://www.divyahimachal.com

No comments:

Post a Comment