बेटियां भी चिट्टे की गिरफ्त में - Shimla Times

Saturday, June 15, 2019

बेटियां भी चिट्टे की गिरफ्त में

शिमला  —प्रदेश में एक ऐसा नशा अपना जान फैलाने लगा है, जो लड़के ही नहीं बल्कि लड़कियों को भी अपनी गिरफ्त में लेने लगा है।  चिट्टा इस्तेमाल करने में  शिमला का नंबर पहला है। जिसके बाद सोलन, बिलासपुर, ऊना और कुल्लू का नाम है, बाकी जिला भी पीछे नहीं देखे जा रहे हैं, लेकिन आईजीएमसी और दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल का रिकार्ड  साफ बता रहा है कि दो वर्षों में चिट्टा खाने से अस्पताल आने वाले प्रभावितों के ग्राफ में काफी बढ़ोतरी देखी जा रही है।  इसमें लगभग 70 केस ऐसे बताए जा रहे हैं, जिन्होंने चिट्टा इस्तेमाल करने के बाद इसे छोड़ने की इच्छा जाहिर की है।  पिछले वर्ष की रिपोर्ट के मुताबिक पांच लोग क ोमा में जा चुके हैं, जिसमें एक की मौत भी दर्ज की गई है। बताया जा रहा है कि प्रदेश में लगभग एक वर्ष में तीन सौ प्रभावित चिट्टे क ी गिरफ्त में आने की वजह से सभी अस्पताल पहुंच रहे हैं। हैरान कर देने वाला खुलासा तो यह भी हुआ है कि सबसे महंगे नशों में शामिल चिट्टे का स्वाद राजधानी की लड़कियां भी ले रही हैं।  इसके अलावा टूरिस्ट क्षेत्रों में सबसे ज्यादा किशोरों को चिट्टे का नशा अपनी गिरफ्त में ले रहा है। इससे भी बड़ा हैरान कर देने वाला खुलासा तो ये भी हुआ है कि शिमला में फै ले इस नशे को करने में लड़कियां भी पीछे नहीं हैं।   

किशोर-किशोरियां आ रही चपेट में

पंद्रह से अठारह वर्ष के लड़कों और लड़कियों को चिट्टे का नशा ज्यादा गिरफ्त में ले रहा है। जिसमें सबसे ज्यादा छात्र वर्ग शामिल है । पॉकिट मनी क ा इस्तेमाल करके नशे का धड़ल्ले से इस्तेमाल कर रहे हैं।

ब्यूटी पार्लर के बहाने खरीद रही नशा

आईजीएमसी के आंकड़ों पर गौर करें तो हर माह दस से बीस मामले चिट्टा नशे से प्रभावितों के आ रहे हैं, जिसमें  दो से तीन मामले लड़कियों के भी शामिल हो रहे हैं।  लड़कियों की केस स्टडी में देखा जा रहा है कि वह ब्यूटी पार्लर के बहाने से ज्यादा पॉकेट मनी लेती हैं और चिट्टे का इस्तेमाल कर रही हैं। डाक्टरों का कहना है कि ये लोग  अब नशा छोड़ना चाहते हैं, लेकिन छूट ही नहीं रहा है। 

कचीनघाटी में अफीम खेती

कुमारसैन। थाना कुमारसैन के कचीनघाटी गांव में पुलिस ने ग्रामीण से अवैध रूप में उगाए हुए अफीम के 1482 पौधे बरामद किए हैं।  जानकारी के अनुसार रोशन लाल,  गांव बड़ाखेत कचीनघाटी  के खेत में अवैध रूप से उगाए गए 1482 पौधों में से  बिना डोडे वाले 700 और 782 पौधे डोडे वाले हैं।  डीएसपी अभिमन्यू वर्मा ने बताया कि  मामला दर्ज कर दिया गया है और मामले की छानबीन जारी है।  क्षेत्र में नशे के कारोबार को जड़ से खत्म करने के लिए और नशामुक्त करने के लिए पुलिस प्रशासन प्रयत्नशील है, जिसके  जनता का सहयोग अपेक्षित है। उन्होंने लोगों के आह्वान किया है कि वे ऐसे लोगों की जानकारी दें।  

 

The post बेटियां भी चिट्टे की गिरफ्त में appeared first on Divya Himachal: No. 1 in Himachal news - News - Hindi news - Himachal news - latest Himachal news.


Courtsey: Divya Himachal
Read full story: https://www.divyahimachal.com/2019/06/%e0%a4%ac%e0%a5%87%e0%a4%9f%e0%a4%bf%e0%a4%af%e0%a4%be%e0%a4%82-%e0%a4%ad%e0%a5%80-%e0%a4%9a%e0%a4%bf%e0%a4%9f%e0%a5%8d%e0%a4%9f%e0%a5%87-%e0%a4%95%e0%a5%80-%e0%a4%97%e0%a4%bf%e0%a4%b0%e0%a4%ab/

No comments:

Post a Comment